बिहार में शांति बहाल करने के लिए केन्द्र अर्धसैनिक बलों की तैनाती करेगा : अमित शाह

Desk Editor
Desk Editor 3 Min Read

पटना : केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बिहार के विभिन्न  जिलों में बीते दो दिनों से फैली हिंसा की खुद संज्ञान लेते हुए राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर से कानून व्यवस्था की स्थिति पर विस्तार से चर्चा की है। शाह ने राज्यपाल से विचार-विमर्श के बाद राज्य में अर्धसैनिक बलों की तैनाती का फैसला किया है। राज्य के सासाराम, नालंदा, गया, भागलपुर, मुंगेर और मुजफ्फरपुर से उपद्रव और हिंसा की खबरें आ रही हैं। केंद्रीय गृह मंत्री ने केंद्र सरकार की तरफ से बिहार में एडिशनल फोर्स भेजने का भी आदेश दिया है। उन्होंने राज्यपाल से कहा कि बिहार में रविवार शाम तक केंद्रीय अर्धसैनिक बल भेज दिए जाएंगे। दरअसल, बिहार में फैली हिंसा के मद्देनजर केंद्र सरकार राज्य में अर्धसैनिक बलों की तैनाती करेगा। कुछ कंपनियां बिहार के संवेदनशील इलाकों में तैनात हो गई हैं और कुछ कंपनियां आज बिहार पहुंच जाएंगी। अर्धसैनिक बलों की तैनाती राज्य पुलिस को सहयोग करने के लिए और राज्य में शांति स्थापित करने के लिए की गई है। वहीं बिहार शरीफ में अर्धसैनिक बलों की नौ कंपनियां पहुंच चुकी हैं। साथ ही यहां की सुरक्षा व्यवस्था को और भी ज्यादा कड़ी कर दी है। अर्धसैनिक बलों की तैनाती राज्य पुलिस को सहयोग करने के लिए और राज्य में शांति स्थापित करने के लिए की गई है। सूत्रों के मुताबिक अर्धसैनिक बलों के 10 कंपनियां बिहार में तैनात की जाएगी। इनमें एसएसबी के अलावे सीआरपीएफ और आईटीबीपी को शामिल किया गया है। अमित शाह दो दिवसीय दौरे पर बिहार में थे। नवादा में आज उनकी रैली हुई है। जबकि उपद्रव और संप्रदायिक तनाव की वजह से सासाराम में अमित शाह की रैली को भाजपा ने स्थगित कर दिया गया था। बता दें कि बिहार के पांच जिलों में रामनवमी की शोभायात्रा के बाद हिंसा जारी है। नालंदा के बिहार शरीफ और सासाराम में दो दिन से फायरिंग और बमबाजी हो रही है। भागलपुर और गया में भी विवाद हुआ है। वहीं मुंगेर में भी शनिवार की रात मूर्ति विसर्जन को लेकर दो गुटों में मारपीट और पथराव हुआ। सासाराम और बिहार शरीफ  में बीते 72 घंटे से भी अधिक समय से दो पक्षों के बीच बवाल जारी है। दोनों जगहों पर शहर के अलग-अलग इलाकों में हुई हिंसा और दो गुटों के बीच पथराव और आगजनी के बाद इंटरनेट को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। वहीं पूरे रोहतास जिले में धारा 144 लागू कर दिया गया है।

Share This Article
Leave a comment