महागठबंधन की सरकार को जड़ से उखाड़ फेंकेंगे : अमित शाह

Desk Editor
Desk Editor 4 Min Read

पटना : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बिहार के सासाराम और बिहारशरीफ में हुए दंगों को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को कटघरे में खड़ा किया है। उन्होने रविवार को नवादा जिले के हिसुआ में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि सासाराम में अशोक जयंती में जाना था। वहां गोली चल रही है, नहीं जा सका। सासाराम की जनता से क्षमा मांगा, मैं वहां जरूर जाऊंगा। अमित शाह ने कहा कि मैं गृह मंत्री हूं, बिहार मेरे हिस्से में है। नीतीश कुमार शांति नहीं ला सकते हैं। केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि बिहार में शांति हो, इसलिए राज्यपाल को फोन किया। इससे ललन सिंह बुरा मान गए। वे कहते हैं कि बिहार में क्यों हस्तक्षेप कर रहे हैं? सत्ता की भूख ने आपको लालू की गोद में बैठने पर मजबूर कर दिया। हमारी कोई मजबूरी नहीं है। हम जनता के बीच जाएंगे। लोगों को बताएंगे। महागठबंधन की सरकार को जड़ से उखाड़ फेंकेंगे। अमित शाह ने नवादा की जनता से पूछा कि नीतीश को नहीं लिया जाए न। इसपर जवाब आया हां, नहीं लिया जाय। गृह मंत्री ने कहा कि नीतीश जी बताओ कि लालू के पास गए तो क्या मिला? लालू ने नीतीश कुमार को पलटू चाचा, लालची, अहंकार, गिरगिट तक कहा फिर भी नीतीश उनसे मिल गए। गृह मंत्री ने कहा कि 2024 लोकसभा चुनाव के बाद बिहार में महागठबंधन की सरकार गिर जाएगी और भाजपा की सरकार बनेगी। अमित शाह ने कहा कि पूरे बिहार में कमल खिलने वाला है। 2024 में फिर से मोदी जी सभी 40 सीट जितने जा रहे हैं। उन्होंने केंद्र द्वारा किए कामों का उल्लेख किया और कहा कि कश्मीर हमारा है। हमनें राम मंदिर बनाया। राम मंदिर का शिलान्यास पीएम मोदी ने किया। उन्होंने कहा कि नीतीश जातिवाद का जहर घोल रहे हैं और लालू जंगलराज वाले हैं। लालू के बेटे ने नीतीश को पलटू, गिरगिट, सांप कहा था, लेकिन नीतीश उन्हीं लोगों के साथ चले गए। बिहार में अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं। बिहार में जंगलराज आ गया है। केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि नरेंद्र मोदी कालाबजारी और भ्रष्टाचारियों से बिहार को मुक्त कराएंगे। वहीं, नीतीश कुमार के पीएम उम्मीदवारी पर तंज कसते हुए अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री की कुर्सी अभी खाली नहीं है। उन्होंने कहा कि लालू यादव गलतफहमी में हैं। तेजस्वी यादव मुख्यमंत्री नहीं बनेंगे। शाह ने कहा कि इनके मंत्री भाजपा का दरवाजा खटखटा रहे हैं। आपके लिए भाजपा के दरवाजे हमेशा के लिए बंद हो चुके हैं। बिहार के इन नेताओं में गजब का स्वार्थ है। लालू के बेटे को सीएम बनना है और नीतीश को पीएम बनना है। अमित शाह ने कहा कि बिहार के हर एक पंचायत में कोऑपरेटिव डेयरी बनेगी। केंद्र ने बिहार को 1 लाख 9 हजार करोड़ रुपये दिए। पीएम मोदी 8 करोड़ 70 लाख लाभुकों को मुफ्त अनाज बिहार में दे रहे हैं। 85 लाख किसनों को सस्ती बिजली, 1.10 करोड़ महिला को केंद्र ने गैस दिया। नवादा में रेललाइन, एनएच बनाया। मंच के बगल में रेललाइन गुजरी है। नवादा में खेती हो रही है। बिजली सुधरी है, रजौली में परमाणु क्षमता यूनिट की योजना बन चुकी है।

Share This Article
Leave a comment