बिहार की 40 में 36 लोस सीट जीतने का भाजपा का लक्ष्य

Desk Editor
Desk Editor 3 Min Read

पटना : भाजपा अब पूरी तरह चुनावी मोड में आ गयी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से इशारा मिलते ही भाजपा ने बिहार में 2024 के लोकसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के एनडीए से अलग होकर महागठबंधन के साथ जाने के बाद से भाजपा का ज्यादा फोकस बिहार पर है। भाजपा ने आगामी लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 में से 36 लोकसभा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है। इसकी रणनीति पर मंथन करने के लिए भाजपा ने 28 और 29 जनवरी को दरभंगा में प्रदेश कार्यसमिति की बैठक बुलाई है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डा. संजय जायसवाल ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दरभंगा में दो दिनों तक प्रदेश कार्यसमिति की बैठक होगी। इसमें विभिन्न मुद्दों पर चर्चा होगी। वहीं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के कार्यकाल को बढ़ाए जाने को लेकर बिहार प्रदेश अध्यक्ष ने खुशी जाहिर की। डा. जायसवाल ने नड्डा के कार्यकाल में भाजपा को और ज्यादा बुलंदियों पर पहुंचने का भरोसा जताया। पटना में विभिन्न मुद्दों पर धरना दे रहे भाजपा सांसद अश्विनी चौबे के समर्थन में संजय जायसवाल भी धरना में शामिल हुए। उन्होंने नीतीश सरकार को हर मोर्चे पर फेल बताया। डा. जायसवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में भारत जी-20 की अध्यक्षता कर रहा है। जी-20 सम्मेलन के लिए पटना को भी चुना गया है। इसके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि यह एक ऐतिहासिक अवसर होगा, जब पूरे देश और दुनिया में बिहार की चर्चा होगी। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी धन्यवाद के पात्र हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए कहा कि बिहार में नीतीश कुमार अप्रासंगिक हो गये हैं। अब उनको कोई नही पूछता है। वह इसलिए यात्रा कर रहे हैं कि बिहार के लोग उनसे कोई प्रश्न ना पूछे और अब उनको कोई पूछने वाला नहीं है। समाधान यात्रा को महज दिखावा करार देते हुए उन्होंने कहा कि इस यात्रा से बिहार का कोई भला नहीं हो रहा है। यह सिर्फ नीतीश कुमार का जनता के सवालों से बचने का एक तरीका है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफिले के कारण ट्रेन को रोक देने की जो खबरें हैं ,यह बहुत दुखद स्थिति है। इसके लिए जो भी दोषी हो उन पर कार्रवाई होनी चाहिए। डा. जायसवाल ने कहा कि नीतीश की यात्राओ से बिहार का कोई भला नहीं होगा, ना ही जदयू के प्रति जनता में विश्वास है। आगामी चुनाव भाजपा खुद अपने बलबूते पर लड़ेगी और बिहार में लोकसभा की 36 सीट जीतेगी। उन्होंने भरोसा जताया कि एक बार फिर से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी होंगे।

Share This Article
Leave a comment