मंत्री आलमगीर आलम को बर्खास्त करें मुख्यमंत्री : दीपक प्रकाश

Desk Editor
Desk Editor 2 Min Read

रांची। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद दीपक प्रकाश ने शनिवार को राज्य सरकार पर निशाना साधा।श्री प्रकाश ने कहा कि भ्रष्टाचार और घोटालों में आकंठ डुबी राज्य सरकार में रोज नए करनामे उजागर हो रहे। श्री प्रकाश ने कहा कि अब सरकार में भ्रष्टाचार नहीं बल्कि भ्रष्टाचार की सरकार है हेमंत सरकार। उन्होंने कहा कि अब सरकार के मंत्री विकास की जिम्मेदारी नहीं संभाल रहे बल्कि ठेका- पट्टा और टेंडर मैनेज करने में अपनी सारी ताकत लगा रहे हैं।उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट ने जिस प्रकार से राज्य सरकार के मंत्री के खिलाफ कड़ी टिप्पणी दी है, उससे राज्य सरकार का असली चेहरा उजागर हुआ है।उन्होंने कहा कि राज्य के जिस विभाग में हाथ डालिए वहां घोटाला ही घोटाला और भ्रष्टाचार ही भ्रष्टाचार है। उन्होंने कहा कि चाहे सिंचाई विभाग का घोटाला हो या फिर फ्लाइ ओवर का सभी में भ्रष्टाचार व्याप्त है। श्री प्रकाश ने कहा कि हेमंत सरकार का भ्रष्टाचार राज्य की जनता पर अत्याचार का भयावह और घिनौना स्वरूप है जो राज्य को दीमक की तरह खोखला कर रहा है।उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री में अगर थोड़ी भी नैतिकता बची है तो ऐसे मंत्री को बर्खास्त करना चाहिए। उन्होंने कांग्रेस पार्टी से भी अपने मंत्री का अविलंब इस्तीफा दिलाने की मांग की।दीपक प्रकाश ने दस जून को मेन रोड में हुई हिंसा की धीमी जांच पर हाईकोर्ट की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि राज्य सरकार राजनीतिक साजिश के तहत जान-बूझकर ऐसा कर रही है।श्री प्रकाश ने कहा कि घटना के दिन से ही राज्य सरकार तुष्टिकरण की नीति पर चल रही है। वोट बैंक की राजनीति सरकार पर हावी है। अगर राज्य सरकार ईमानदार होती तो अबतक दोषियों को कड़ी सजा मिल गई होती।लेकिन सरकार की मंशा साफ नहीं है। यह लीपापोती कर मामले को रफा-दफा कर देना चाहती है।श्री प्रकाश ने कहा कि राज्य सरकार ने अगर सख्ती नही बरती तो इस घटना की जांच सीबीआई से होनी चाहिए।

Share This Article
Leave a comment