महागठबंधन में बननी चाहिए कोर्डिनेशन कमिटी : तारिक अनवर

Desk Editor
Desk Editor 2 Min Read

पटना। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री तारिक अनवर ने कहा है कि कुढ़नी उपचुनाव के लिए प्रत्याशी चयन के दौरान महागठबंधन के दलों में आपसी समांजस्य की कमी दिखी। इस उपचुनाव से पहले महागठबंधन में शामिल सभी दलों की एक बैठक होनी चाहिए थी। इस बैठक में जो निर्णय होता उसके आधार पर यहां के लिए प्रत्याशी का चयन किया जाता तो नतीजे कुछ और होते। अनवर ने शनिवार को बातचीत में कहा कि हकीकत यह है कि महागठबंधन के अंदर भले ही अच्छी समझ और पकड़ हो, लेकिन जमीन पर उनके कार्यकर्त्ताओं के बीच साझेदारी नहीं है। राजद के लोग खुद को राजद के प्रत्याशी के लिए आगे करते हैं और जदयू के लोग भी सिर्फ जदयू के लिए ही वोट मांगने जाते हैं। इसी कारण बिहार में हो रहे चुनाव में यह सबकुछ नजर आता है।  कुढ़नी उपचुनाव में कांग्रेस के कार्यकर्त्ता भी शिथिल थे। तारिक अनवर ने कहा कि जबसे यह गठबंधन बना है तभी से हमलोग यह कहते आ रहे हैं और आज फिर से कह रहे है कि महागठबंधन में को-ऑर्डिनेशन कमेटी बननी चाहिए। महागठबंधन में बिना को-ऑर्डिनेशन कमेटी के मजबूती नहीं आएगी। इसलिए अब सभी दलों की बात करनी होगी। गौरतलब है कि कुढ़नी उपचुनाव में जदयू प्रत्याशी को मिली हार के बाद महागठबंधन में घमासान मचा है। इससे पहले कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा ने नीतीश कुमार की शराबबंदी पर ही सवाल उठा दिया था और इससे कुढ़नी में हार का मुख्य वजह बताया था। उधर, राजद नेता अनिल सहनी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस्तीफे की मांग कर दी है।

Share This Article
Leave a comment