डाॅ. संजय जायसवाल ने नीतीश और तेजस्वी पर एकसाथ साधा निशाना

Desk Editor
Desk Editor 3 Min Read

पटना : भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. संजय जायसवाल ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर एकसाथ निशाना साधा है। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुये मंगलवार को कहा कि नीतीश कुमार को उम्र के साथ भूलने की बीमारी हो गई है। वहीं 32 वर्ष के तेजस्वी यादव भी भूलने की बीमारी से ग्रसित हो गये हैं। डॉ जायसवाल ने महागठबंधन का घोषणा पत्र शेयर करते हुए उप मुख्यमंत्री को निशाने पर लिया। उन्होंने अपने अधिकारिक फेसबुक पोस्ट पर महागठबंधन का घोषणा पत्र शेयर करते हुए कहा कि नीतीश जी 1993 से 2022 तक उन्होंने क्या-क्या कहा था आज वह सब भूल चुके हैं। लेकिन 32 वर्षीय तेजस्वी यादव भी भूलने की बीमारी से ग्रसित हो गये हैं। बिहार की जनता से उन्होंने जो कुछ भी कहा था उसमें से गलती से भी एक बात याद नहीं रखना चाहते। डॉ जायसवाल ने कहा कि तेजस्वी यादव ने वादा किया था कि जब भी विद्यार्थी परीक्षा देने जाएंगे तो उनके आने-जाने का संपूर्ण खर्च महागठबंधन सरकार उठाएगी। आज जदयू के हर मंत्री की तरह महागठबंधन सरकार में फिर से प्रश्न पत्र लीक हो गया। पिछली बार तेजस्वी यादव कह रहे थे कि हर हालत में छात्रों को 5000 मुआवजा देना ही चाहिए। आज मुझे पूरा विश्वास है कि बीएसएससी के सभी छात्रों को ₹5000 मुआवजा मिलेगा, जिससे कि अगली बार परीक्षा में आने में उन्हें सुविधा मिल सके। महागठबंधन ने 2020 के चुनावी वादों को चारा घोटाला समझ लिया था। पर हम महागठबंधन को बिहार की जनता से 2020 चुनाव मे किए हुए वायदे कभी भूलने नहीं देंगे। उन्होंने महागठबंधन का घोषणा पत्र की चर्चा करते हुए कहा कि पहली कैबिनेट में दस लाख नौजवानों को रोजगार, परीक्षा के लिए भरे जाने वाले आवेदन फार्म पर फीस माफ परीक्षा केंद्रों तक जाने का किराया सरकार देगी, पलायन रोकने के लिए करेंगे काम, शिक्षकों के लिए समान काम समान वेतन का वादा, जीविका दीदियों का मानदेय दोगुना करने का वादा, पहले विधानसभा सत्र में केंद्र के कृषि संबंधी तीनों बिल के प्रभाव से बिहार के किसानों को मुक्ति दिलाने का वादा किया गया है।

Share This Article
Leave a comment