महागठबंधन सरकार के कार्यकाल में युवाओं को सिर्फ आश्वासन मिला : विनय भरत

Desk Editor
Desk Editor 3 Min Read

रांची : झारखंड के युवाओं को झामुमो महागठबंधन की सरकार के तीन वर्षों के कार्यकाल में हक-अधिकार और नौकरियां मिलने के जगह केवल आश्वासन मिला। नियोजन नीति, रोजगार, बेरोजगारी भत्ता के नाम पर युवा ठगे गए। शुक्रवार को ये बातें आजसू पार्टी के केंद्रीय प्रवक्ता प्रोफेसर विनय भरत ने कहीं। वे पार्टी के हरमू स्थित प्रधान कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में बोल रहे थे। श्री भरत ने कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने एक साल में 5 लाख नौकरियां देने के वादे किए थे, लेकिन 3 साल में महज साढ़े पांच सौ नियुक्तियां हुई हैं। युवाओं को नौकरी मिलने की बजाय, उनके हाथ से नियुक्तियां निकली जा रही हैं। अखबारों में वेकैंसी, परीक्षाओं की सूचनाएं आती हैं, लेकिन इनकी लचर नीतियों की वजह से सब धरी रह जाती हैं। उन्होंने कहा कि गरीब, किसान, मजदूर अपनी वर्तमान सामाजिक-आर्थिक परिस्थियों से जूझते हुए अपनी बेटी-बेटियों को शिक्षा दिलाने में अपना सर्वस्व न्योछावर कर देते लेकिन अंततः उन्हें निराशा ही हाथ लगती है। अगर पीटी परीक्षा होती है, तो मेंस परीक्षा रद्द हो जाती और मेंस परीक्षा होती है, तो इंटरव्यू रद्द कर दिया जाता है। और अगर सभी परीक्षाएं और इंटरव्यू संपन्न हो जाते हैं, तो सरकार की असंवैधानिक नीतियों के कारण न्यायालय पूरी परीक्षा को ही रद्द कर देती है। ऐसे में झारखंड के युवाओं के समक्ष बस एक ही उपाय बचता है, सड़क और संघर्ष। वहीं, प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आजसू पार्टी के केंद्रीय मुख्य प्रवक्ता डॉ. देवशरण भगत ने कहा कि सरकार ने स्थानीय नीति को नियोजन का आधार क्यों नहीं बनाया। हमने शुरू से इस विषय पर अपनी आवाज मुखर की है। नियोजन नीति को लेकर शुरु से ही सरकार की स्पष्ट मंशा नहीं है, इसलिए वह चीजों को और उलझाने का रास्ता प्रशस्त करती रही है। सरकार की असंवैधानिक नीतियों और राज्य के युवाओं की वर्तमान स्थिति एवं हालात को देखते हुए आजसू ने 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद की जयंती पर युवा आक्रोश मार्च निकालने का निर्णय लिया है, जिसका नेतृत्व पार्टी की सहयोगी इकाई अखिल झारखंड छात्र संघ करेगा। बैठक में मुख्य रूप से गुंजल इकिर मुंडा, हरीश कुमार, गौतम सिंह, अब्दुल जब्बार, गदाधर महतो, नीरज वर्मा, ओम वर्मा, अरविंद महतो, संदीप साहू, चेतन प्रकाश, अनुराग भारद्वाज, अभिषेक झा,  सूरज, प्रिंस,  राहुल मिश्रा, राजकिशोर महतो, देवा महतो, विजय कुमार, धर्मराज प्रधान, तापस महतो, विराट, शेखर महतो, नीतीश निराला, आशुतोष कुमार, कैलाश महतो, मदन, बबलू, ज्योतिष, रोशन सेठ, संतोष तांती, कुंवर महतो, हिमांशु, नीतीश महतो, जानकी महतो, केशव पाठक, अभिषेक शुक्ला, अनुराग साहू, जमाल गद्दी, महावीर महतो, सचित कुमार मौजूद रहे।

Share This Article
Leave a comment