दिल्ली में कचरे का हुआ जुटान : सम्राट चौधरी

Desk Editor
Desk Editor 3 Min Read

 

पटना : भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दिल्ली दौरे पर कटाक्ष किया है। उन्होंने विपक्षी एकता की पहल को कचरे का एक साथ आना कहा है।भाजपा अभी सामाजिक न्याय सप्ताह के तहत स्वच्छता अभियान सह वृक्षारोपण अभियान चला रही है। इसी क्रम में गुरुवार को पटना के गर्दनीबाग स्थित कच्ची तालाब के पास भाजपा की ओर से स्वच्छता अभियान चलाया गया। इस मौके पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने भी साफ-सफाई में अपना योगदान दिया। इस दौरान सम्राट चौधरी ने कहा लगातार हमारे कार्यक्रम चल रहे हैं। गांव-गांव में छठ घाट की सफाई का काम युवा मोर्चा के द्वारा किया जा रहा है और 14 अप्रैल को भीमराव अंबेडकर की जयंती पर कल पूरे बिहार में अभियान चलेगा। हर बूथ पर हम लोग बाबा साहेब की प्रतिमा पर माल्यार्पण करेंगे। बाबा साहेब के जो आदर्श हैं, उसेआगे बढ़ाना हैं। हम लोग सदस्यता अभियान भी चलाएंगे। इसी क्रम में उन्होंने कहा कि दिल्ली में सभी कचरे एक साथ हुए हैं। सारे कचरों का जुटान हुआ है। वहां भ्रष्टाचारियों की जमात बैठी हुई थी और सभी भ्रष्टाचारी एक हो रहे हैं। सम्राट चौधरी ने कहा कि कचरा का मतलब इसलिए कहा कि सब लोग भ्रष्टाचारी वहां एक हो रहे हैं। सबसे पहला काम लालू प्रसाद यादव के चरणों में जाकर नीतीश जी गिर गए। उसके बाद राहुल गांधी के पास गए और फिर केजरीवाल के पास। यह सारे लोगों को आप देखेंगे तो पाएंगे कि यह सारे लोग इस देश में भ्रष्टाचार का प्रतीक बन चुके हैं। उन्होंने कहा कि देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सफाई का काम तो कर ही रहे हैं। शौचालय बना ही रहे हैं, जलाशय को भी ठीक कर रहे हैं और अमृत काल में तालाब भी बना रहे हैं और इसके साथ साथ जितने भी भ्रष्टाचारी हैं, उनकी भी सफाई का काम प्रधानमंत्री कर रहे हैं। सम्राट चौधरी ने कहा कि बिहार में दंगा हो रहा है। बिहार में बेरोजगारों पर लाठियां चल रही हैं। लोग गिरफ्तार हो रहे हैं। ऐसी स्थिति में नीतीश कुमार को बिहार की चिंता करनी चाहिए। वह मुख्यमंत्री हैं। सम्राट ने इस दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, कांग्रेस नेता राहुल गांधी और राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा कि आज मैंने देखा किसी व्यक्ति ने एक फोटो लगाया है कि खडगे अगली बार राष्ट्रपति बनना चाहते हैं, उसके बाद राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं। नीतीश कुमार भी प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं। उसके बाद तेजस्वी यादव मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं तो सब लोगों की अगर इच्छा है कि प्रधानमंत्री बने तो नीतीश कुमार जोड़ेंगे किसको?

Share This Article
Leave a comment