आदिवासियों-मूलवासियों से विपक्ष को है चिढ़ : हेमंत सोरेन

Desk Editor
Desk Editor 1 Min Read

धनबाद : आदिवासियों-मूलवासियों से विपक्ष को  चिढ़ है। यही वजह है कि किसी आदिवासी सीएम को उन्होंने पांच साल टिकने नहीं दिया। बाबूलाल मरांडी सीएम बने तो उन्हें दो साल में ही हटा दिया गया और अर्जुन मुंडा भी ढाई से तीन साल तक ही सरकार चला पाये जबकि एक छत्तीसगढ़िया सीएम पांच साल तक सरकार चलाता रहा। शनिवार को ये बातें मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहीं। वे झामुमो के 51वें स्थापना दिवस समारोह में बोल रहे थे। समारोह रणधीर वर्मा स्टेडियम में आयोजित किया गया था। उन्होंने कहा कि विपक्ष हमें बोका समझता है लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। हम भारी पड़ेंगे। उन्होंने कहा कि हम 1932 के खतियान पर आधारित नियोजन नीति ला रहे हैं तो विपक्ष के पेट में दर्द हो रहा है। कर्नाटक में इनकी सरकार है तो वहां नियोजन के लिए जो नीति लायी गयी वो सही हो गयी जबकि हमारी नियोजन नीति असंवैधानिक हो गयी। यह कैसा दोहरा चरित्र है। कार्यक्रम में दिशोम गुरु शिबू सोरेन ने कहा कि लंबे संघर्ष के बाद झारखंड बना है इसलिए सरकार ऐसी नीति बनाए जिससे लोगों को फायदा हो। किसानों के खेतों तक पानी पहुंचे इसकी व्यवस्था सरकार करे।

Share This Article
Leave a comment