ISRAEL PALESTINE WAR: दोनों देश बीच हो रही बम बारी में अब तक दो हजार की मौत

Faisal Raj
Faisal Raj 3 Min Read

यरुशलम। इजराइल और फिलिस्तीन ( Israel Palestine War ) के युद्ध में दुनिया को अपनी ओर खिची है। इजराइल और हमास के बीच हो रही बम बारी में अब तक दो हजार से अ‎धिक लोगों की मौत होने की खबर है। हालां‎कि अ‎धिका‎रियों द्वारा यह संख्या लगभग एक हजार के आसपास ही बताई गई है। जब‎कि सैकड़ों घायल अस्पताल में भर्ती हैं। ‎जिसमें से कई लोग गंभीर रुप से घायल हुए है उन्हे बचाने का प्रयास ‎किया जा रहा है।

Read More- ISRAEL PALESTINE WAR: 41 ‎किमी लंबी जमीन का टुकड़ा है गाजा पट्टी, जिसके लिए छिड़ी है भीषण युद्ध

इजराइल के सरकारी स्वामित्व वाले इजराइल और फिलिस्तीन युद्ध, इजराइल और हमास, गाजा पट्टी, आतंकी संगठन हमास, पीएम बेन्जामिन नेतन्याहू, हवाई हमला, बमबारी, हमास, फिलिस्तीन, इजराइल, मुस्लिम देश, आतंकी हमला, इजराइल और हमास के बीच खूनी संघर्षकान टीवी ने मंगलवार को बताया ‎कि इजरायली सरकार के अधिकारियों ने सिन्हुआ से कहा कि मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है क्योंकि बचावकर्मी अभी तक दक्षिणी इजरायल के कुछ इलाकों में नहीं पहुंचे पाए हैं, जहां शनिवार को हमला करने वाले हमास आतंकवादी अभी भी इजरायली सैनिकों के साथ संघर्ष कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ इजरायल के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अस्पतालों में घायलों की संख्या बढ़कर 2,616 हो चुकी है, जिनमें से 25 की हालत गंभीर है। गाजा में आतंकवादी समूहों के अनुसार, फिलिस्तीनी एन्क्लेव में लगभग 130 इजरायली बंधकों को रखा गया है।

इसी तरह फिलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय के एक बयान के अनुसार, गाजा पर इजरायल के हवाई हमलों में कम से कम 560 लोग मारे गए हैं। फिलिस्तीनी स्वास्थ्य मंत्रालय के नए अपडेट के अनुसार, गाजा पट्टी पर इजरायली हमलों में मरने वालों और घायलों की संख्या बढ़कर क्रमशः 687 और 3,726 हो गई है। फिलिस्तीनी इस्लामिक प्रतिरोध आंदोलन (हमास) ने शनिवार को गाजा पट्टी से सटे इजरायली शहरों पर एक आश्चर्यजनक हमला किया, जिसके बाद इजरायल ने गाजा पर जवाबी हमले शुरू कर दिए।

हमले के दौरान, हमास के उग्रवादियों ने गाजा पट्टी को इजराइल से अलग करने वाली सुरक्षा बाड़ को तोड़ दिया और आसपास के समुदायों पर हमला कर दिया, इजराइलियों को मार डाला और कब्जा कर लिया। वहीं दूसरी तरफ जानकारों का कहना है ‎कि गाजा पट्टी पूरी तरह से इजराइल पर ‎निर्भर है इससे गाजापट्टी के लोगों की समस्याएं और ज्यादा बढ़ेगी।

Share This Article
Leave a comment