महाराजा चार्ल्स ने ब्रिटेन में भारतीय विद्या भवन के प्रमुख को एमबीई से किया सम्मानित

Desk Editor
Desk Editor 2 Min Read

लंदन : ब्रिटेन के एक प्रसिद्ध संस्कृत विद्वान और लंदन में भारतीय विद्या भवन केंद्र के कार्यकारी निदेशक डॉ. एमएन नंदकुमार को महाराजा चार्ल्स तृतीय की ओर से ब्रिटेन में भारतीय शास्त्रीय कला क्षेत्र में सेवाओं के लिए ‘मेंबर ऑफ द ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एम्पायर’ (एमबीई) प्रदान किया गया है। डॉ. एम.एन. नंदकुमार कर्नाटक के मत्तूर गांव के रहने वाले हैं और 46 वर्षों से भवन से जुड़े हुए हैं। सार्वजनिक जीवन में उनके योगदान के लिए विदेशी नागरिकों के वास्ते ब्रिटिश सम्राट द्वारा दिये जाने वाले इस पुरस्कार से डा. नंदकुमार को नवाजे जाने की पुष्टि इस महीने की शुरुआत में ब्रिटेन के विदेश, राष्ट्रमंडल और विकास कार्यालय (एफसीडीओ) द्वारा की गई थी।डॉ नंदकुमार ने कहा कि मैं वास्तव में इस पुरस्कार को पाकर सम्मानित महसूस कर रहा हूं। मैं सबसे ज्यादा खुश हूं क्योंकि यह पुरस्कार भारतीय कला और संस्कृति के क्षेत्र में भवन के काम और सेवा को मान्यता देने के लिए दिया गया है और यह तब मिला है जब हम इस साल अपनी 50वीं वर्षगांठ मना रहे हैं।उन्होंने कहा कि महाराजा ने स्वयं चार बार भवन का दौरा किया है और हमारे द्वारा संचालित कक्षाओं में हमेशा अत्यधिक रुचि दिखाई है। एक अवसर पर तत्कालीन ‘प्रिंस ऑफ वेल्स’ हमारे तबला वादक के साथ कालीन पर बैठे थे और तबला वादन में हाथ आजमाया था।’’

Share This Article
Leave a comment