सदन के भीतर लोकतंत्र की हत्या कर रही नीतीश सरकार : विजय कुमार सिन्हा

Desk Editor
Desk Editor 3 Min Read

पटना : भाजपा ने छपरा में जहरीली शराब से लोगों की हुई मौत के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जिम्मेवार ठहराते हुए उनसे इस्तीफे की मांग की है। नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार सिन्हा ने कहा है कि नीतीश सरकार सदन के भीतर लोकतंत्र की हत्या कर रही है। उन्होंने कहा कि छपरा में अबतक जहरीली शराब से 40 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, बावजूद इसके सरकार सदन के अंदर मजाक कर रही है। उन्होंने कहा कि शराब की आड़ में बिहार की सरकार लोगों का नरसंहार करा रही है। नीतीश कुमार को नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सरकार इस नरसंहार का सीबीआई से जांच कराए, जांच में राज्य सरकार के कई लोग फंसेंगे। विजय सिन्हा ने गुरुवार को सदन के बाहर मीडिया से बात करते हुए कहा कि जहरीली शराब सै बिहार मे अब तक हजारों लोगों की मौत हो चुकी है। ऐसे में सरकार को मृतकों के परिजन को मुआवजा देना चाहिए, पर नीतीश कुमार संवेदनहीन बयान देने रहें हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा का प्रतिनिधिमंडल सारण का दौरा करेगा और मृतक के परिजनों से मुलाकात करेगा। भाजपा नेताओं के शराब के अवैध कारोबार में शामिल होने के आरोप के सवाल पर विजय सिन्हा ने कहा कि उनकी सरकार है, अगर कोई भाजपा का नेता शामिल है तो उस पर कार्रवाई करें। इसके साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि शराब के अवैध कारोबार में भाजपा के बजाय राजद और जदयू के नेता शामिल हैं और महागठबंधन ऐसे नेताओं को चुनाव मे टिकट भी देती है। उन्होंने कहा कि शराब माफिया को गोपालगंज में टिकट देकर पार्टी का उम्मीदवार बनाया और शराब पीने वाले को कुढ़नी उपचुनाव में प्रत्याशी बना दिया। सरकार शराब और बालू माफिया को संरक्षण देने का काम कर रही है। विजय सिन्हा ने कहा कि जहरीली शराब के कारण छपरा में अबतक तीन दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। अगर सरकार इस तरह की घटनाओं को नहीं रोक सकती है तो उसे सत्ता में बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। इतने लोगों की मौत के बावजूद सदन में मुख्यमंत्री की तरफ से कोई वक्तव्य नहीं आया है। विधानसभा अध्यक्ष का आचरण विपक्ष के साथ उचित नहीं है। विपक्ष के विधायकों को सदन में बोलने नहीं दिया जा रहा है। सरकार चाहे जो भी कर ले, जहरीली शराब से हुई मौतों पर विपक्ष चुप नहीं रह सकता है। उन्होंने कहा कि बिहार में अपराधी खुलेआम आतंक मचा रहे हैं, बावजूद सरकार उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि विपक्ष जब सदन में इसको लेकर आवाज उठाता है तो उसे दबाने की कोशिश की जाती  हाथ से जाएगी तो उनकी दुर्गति तय है।

Share This Article
Leave a comment