बिहार के लाचार मुख्यमंत्री हैं नीतीश कुमार : गिरिराज सिंह

Desk Editor
Desk Editor 4 Min Read

पटना : बिहार में महागठबंधन के नेताओं के विवादित बयानों से नीतीश सरकार को असहज स्थिति का सामना करना पड़ रहा है। रामचरितमानस पर शिक्षा मंत्री चन्द्रशेखर की आपत्तिजन टिप्पणी का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि जदयू के वरिष्ठ नेता गुलाम रसूल बलियावी  के भड़काऊ बयान से सूबे की सियासत गरमा गयी है। बलियावी के हर शहर को कर्बला बना दिये जाने वाले बयान पर न केवल विपक्षी भाजपा ,बल्कि सत्ताधारी राजद ने भी जदयू नेतृत्व को आड़े हाथों लिया है। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बलियावी के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि महागठबंधन के अंदर एक से बढ़कर एक लोग बैठे हुए हैं जो सिर्फ और सिर्फ विवादित बयान देते हैं। दिल्ली से शुक्रवार को पटना पहुंचे भाजपा के फायर ब्रांड नेता गिरिराज सिंह ने कहा कि ये टुकड़े- टुकड़े गैंग से आये हुए लोग हैं। ऐसे बयान ये लोग दें, यह स्वाभाविक है। लेकिन जो लोग रामायण पर विवादित बयान देते हैं, उनकी हिम्मत नहीं की कुरान पर टिप्पणी करें। गिरिराज सिंह ने कहा कि इनका काम ही उन्माद फैलाना है। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि नीतीश कुमार बिहार के लाचार मुख्यमंत्री हैं। वो सत्ता के लिए धृतराष्ट्र की तरह बैठे हैं और बिहार में समाजिक तनाव बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार को बिहार से कोई लेनादेना नहीं है। सत्ता के लिए गठबंधन किया गया है और वह सबसे लाचार मुख्यमंत्री बन गए हैं। रामचरितमानस पर शिक्षामंत्री के विवादित बयान पर गिरिराज सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री और जदयू जिसे गलत बता रही है, उस पर बिहार के उपमुख्यमंत्री जवाब नहीं देते हैं। मुख्यमंत्री ऐसे उपमुख्यमंत्री को हटा क्यों नहीं देते हैं? उन्होंने कहा बिहार में अभी एनडीए की सरकार नहीं है। इसके बाद भी हम कहते हैं भाजपा के रहते राजद हो या जदयू अगर भारत के सनातन धर्म को अपमानित करने का कोशिश करेगी तो उसका मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार सबसे लाचार और कमजोर मुख्यमंत्री हैं, नहीं तो वह नौटंकी कर रहे हैं। क्योंकि कोई अगर मुख्यमंत्री की बात नहीं मान रहा है तो उनको हटा दिया जाना चाहिए। जिस बयान को खुद नीतीश कुमार और उनकी पार्टी गलत मान रही है, उसके बाद भी कोई उनकी बात नहीं मान रहा है तो उसे हटा दिया जाना चाहिए नहीं तो यह मैं यह मानूंगा कि यह नीतीश कुमार की सह पर हो रहा है। गौरतलब है कि झारखंड के हजारीबाग में गुरुवार को एक सभा के दौरान जदयू के पूर्व विधान पार्षद गुलाम रसूल बलियावी ने भाजपा से बर्खास्त नेता नुपूर शर्मा के खिलाफ जमकर आग उगला। अपने भाषण में उन्होंने खूब भड़काऊ शब्दों का प्रयोग किया। उन्होंने कहा कि अगर हमारे आका की इज्जत पर हाथ डाला तो शहरों को कर्बला बना दिया जाएगा। अभी भी वो अपनी बातों पर अड़े हैं। शुक्रवार को गुलाम रसूल बलियावी ने कहा कि वह तो स्वीकार करते हैं कि उन्होंने कहा है कर्बला बना देंगे।

Share This Article
Leave a comment