एम्स दिल्ली में सुशासन पर हमारा विशेष ध्यान : निदेशक

Desk Editor
Desk Editor 1 Min Read

नयी दिल्ली। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), दिल्ली रोगियों को प्राथमिक उपचार दिए जाने के बाद अन्य अस्पतालों में भेजने के लिए एक तंत्र बनाने पर काम कर रहा है ताकि संस्थान अपने संसाधनों और विशेषज्ञता को जटिल मामलों पर केंद्रित कर सके। संस्थान के निदेशक डॉ एम श्रीनिवास ने एक साक्षात्कार में यह बात कही। उन्होंने कहा कि एम्स में हर दिन लगभग 8,000 से 15,000 मरीज बाह्य रोगी विभाग (ओपीडी) में आते हैं और भीड़ को प्रबंधित करना हमारे लिए बहुत मुश्किल है।पिछले महीने एम्स के निदेशक के रूप में पदभार संभालने वाले डॉ श्रीनिवास ने कहा कि दिल्ली में दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार के सभी अस्पतालों के चिकित्सा अधीक्षकों और प्रशासकों की एक बैठक पिछले महीने एम्स में हुई थी।

Share This Article
Leave a comment