जनादेश के साथ विश्वासघात करने वाली सरकार से ऊब चुकी है जनता : डॉ देवशरण भगत

Desk Editor
Desk Editor 2 Min Read

रांची : महागठबंधन की सरकार ने अपने तीन वर्षों के कार्यकाल में झारखंडी भावना, उम्मीद और जनादेश के साथ जो विश्वासघात किया है, उससे जनता ऊब चुकी है। सरकार ने युवा, किसान, मजदूर, गरीब, बुजुर्ग सभी को ठगने का काम किया है। तीन साल में कोई वैकेंसी नहीं, परीक्षा नहीं। नियुक्तियां और बहाली नहीं। जबकि खुद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का वादा पब्लिक डोमेन में है कि सत्ता में आते ही पहले साल पांच लाख नौकरियां देंगे। ये बातें आजसू पार्टी के केंद्रीय मुख्य प्रवक्ता डॉ. देवशरण भगत ने बुधवार को कहीं। डॉ देवशरण भगत ने कहा कि बड़े पैमाने पर संसाधनों की लूट और भ्रष्टाचार से राज्य का विकास अवरूद्ध हो रहा है और अराजकता का वातावरण है।
राज्य की छवि खराब हो रही है
श्री भगत ने कहा कि इससे राज्य की छवि खराब हो रही है। गुरूवार को आजसू पार्टी महज विरोध की खातिर पूरे राज्य में न्याय मार्च नहीं निकालेगी, बल्कि राज्य की साढ़े तीन करोड़ जनता को विचार मंथन और जनादेश का हिसाब लेने के लिए भी जगायेगी। जिलास्तरीय न्याय मार्च को लेकर डॉ देवशरण भगत ने कहा कि कार्यक्रम की सारी तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश महतो ने न्याय मार्च को लेकर रणनीतियां तैयार की है तथा इसे लेकर सभी स्तर के पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक भी की है। गौरतलब है कि आजसू पार्टी अप्रैल को सामाजिक न्याय महीने के रुप में मना रही है और इस दौरान कई कार्यक्रम किए जाने हैं।

Share This Article
Leave a comment