मसाज का वीडियो वायरल होने पर आरोपों से घिरे सत्येंद्र जैन, आम आदमी पार्टी ने किया आरोपों का खंडन

Desk Editor
Desk Editor 7 Min Read

राजीव रंजन नाग

नई दिल्ली। दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन के जेल में मसाज कराने के वायरल वीडियो को लेकर विवाद में नया मोड़ आ गया है। वीडियो एक कैदी का है, जिस पर 10 वीं कक्षा में पढ़ने वाली अपनी ही बेटी के साथ बलात्कार का आरोप है। नया खुलासा करते हुए, भाजपा ने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल से माफी मांगने की मांग की है। तिहाड़ जेल के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, सुरक्षा वीडियो में आप के मंत्री की मालिश करने वाला व्यक्ति रिंकू है, जिस पर यौन अपराधों से बच्चों के कड़े संरक्षण (पॉक्सो) कानून के तहत बलात्कार का आरोप लगाया गया है। उन्हें पिछले साल तब गिरफ्तार किया गया था जब उनकी 10वीं कक्षा की छात्रा बेटी ने उन पर मारपीट का आरोप लगाया था। गौरतलब है कि शनिवार को ‘आप’ उस समय आलोचनाओं के घेरे में आयी थी जब जैन की जेल में कथित तौर पर मालिश कराते और लोगों से मिलते हुए एक वीडियो सामने आया। भाजपा और कांग्रेस ने उन्हें बर्खास्त करने की मांग की है। वहीं, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ‘चुप्पी’ पर सवाल उठाए। वीडियो लीक होने के बाद जेल में बंद आम आदमी पार्टी मंत्री सत्येंद्र जैन ने शनिवार को यहां एक अदालत का रुख कर तिहाड़ जेल के अंदर की एक सीसीटीवी फुटेज को मीडिया में कथित तौर पर ‘लीक’ करने को लेकर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के खिलाफ अवमानना कार्यवाही किये जाने का अनुरोध किया। अपनी याचिका में जैन ने ईडी पर सीसीटीवी फुटेज लीक करने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘अदालत में किए गए उस वादे के बावजूद’ कि मामले से संबंधित कोई भी सामग्री मीडिया को नहीं दी जाएगी, इसका पालन नहीं किया गया। आप नेता सत्येंद्र जैन का कथित वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है, जिसमें वह तिहाड़ जेल में बिस्तर पर लेटे और पैरों की मालिश कराते देखे जा सकते हैं। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने ट्वीट कर इस बात का खूलासा किया है। पूनावाला ने केजरीवाल से मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने की मांग की है। पूनावाला अपने एक और ट्वीट में लिखते हैं इससे अधिक शर्मनाक और क्या ही होगा? एक बेटी से पास्को के साथ अपराध संहिता की धारी 376, 506 और 509 के आरोपी को सतेंद्र का मसाजर बना दिया गया। इसके पीछे कहीं इस बलात्कारी को बचाने की डील तो नहीं ? शहजाद ने अपने एक और ट्वीट में लिखा-एक बेटी से रेप के आरोपी से तिहाड़ जेल में सत्येंद्र जैन की मसाज करवातें है। मनीष सिसोदिया उसे थेरेपिस्ट बता रहे थे। किन्तु वो कोई थेरेपिस्ट नहीं बल्कि रेप का आरोपी रिंकू है।’ आम आदमी पार्टी (आप) ने दावा किया था कि जैन फिजियोथेरेपी करा रहे थे। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दावा किया था कि जैन को रीढ़ की हड्डी में चोट के कारण फिजियोथेरैपी की सलाह दी गई थी, लेकिन भाजपा उनकी बीमारी का मजाक बना रही है। इससे पहले शनिवार को तिहाड़ जेल के पूर्व पीआरओ ने कहा कि यह फिजियोथेरेपी नहीं हो सकती क्योंकि वीडियो में साफ दिख रहा है कि सह-कैदी उनकी मालिश कर रहे थे। तिहाड़ जेल के पूर्व पीआरओ सुनील गुप्ता ने बताया कि वीडियो से साफ होता है कि जेल के अन्य कैदी मंत्री की मसाज कर रहे थे. उन्होंने कहा, ‘मालिश फिजियोथेरेपी से अलग है। अस्पताल में फिजियोथेरेपी वार्ड में फिजियोथेरेपी दी जाती है।’ 13 सितंबर के सीसीटीवी फुटेज में मंत्री अपने बिस्तर पर लेटे हुए नजर आ रहे हैं और कुछ कागज पढ़ते दिख रहे हैं, जबकि उनके बगल में बैठा एक व्यक्ति उनके पैर की मालिश करता दिख रहा है। उधर, भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने ट्वीट किया, ‘शर्म करो अरविंद केजरीवाल. डॉक्टरों ने पुष्टि की है कि यह फिजियोथेरैपी नहीं है और तिहाड़ जेल में सत्येंद्र जैन की मालिश कर रहा व्यक्ति बलात्कारी है, पोक्सो के तहत आरोपी है न कि फिजियोथेरैपिस्ट है जैसा कि आप बता रहे हैं। सोमवार को भी, अरविंद केजरीवाल ने “फिजियोथेरेपी, मालिश नहीं” तर्क पर टिके रहकर अपने मंत्री को वीआईपी ट्रीटमेंट देने के भाजपा के आरोप का जोरदार खंडन किया। केजरीवाल ने गुजरात के वड़ोदरा में अपने प्रचार अभियान के इतर संवाददाताओं से कहा, “वे इसे मालिश और वीआईपी उपचार कह रहे हैं, लेकिन यह केवल फिजियोथेरेपी है। इस बीच, जैन को इलाज के लिए दिए जाने वाले दावों का खंडन करते हुए इंडियन एसोसिएशन ऑफ फिजियोथेरेपिस्ट ने अपमानजनक फिजियोथेरेपी के लिए आप पार्टी से माफी की मांग की है। बता दें कि दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बीजेपी पर सीसीटीवी फुटेज लीक करने का आरोप लगाया था और कहा था कि ‘फिजियोथेरेपी’ रीढ़ की हड्डी में चोट के कारण हुई थी। उन्होंने शनिवार को कहा था, ‘घायल व्यक्ति के इलाज की सीसीटीवी फुटेज लीक कर के सिर्फ बीजेपी ही भद्दा मजाक कर सकती है। जैन की रीढ़ की हड्डी टूट गई थी, यह रिकॉर्ड में है। मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार श्री जैन पर तिहाड़ जेल के अंदर विशेष उपचार करने का आरोप लगाने के कुछ दिनों बाद वीडियो सामने आए। “वीआईपी उपचार” के आरोप के कारण महानिदेशक (जेल), संदीप गोयल के अलावा कम से कम 12 तिहाड़ जेल अधिकारियों का स्थानांतरण हुआ। श्री जैन को अपने कक्ष में बैठे लोगों से मालिश करवाते और बातचीत करते देखा गया, जिसकी जेल में अनुमति नहीं है। अधिकारियों ने कहा कि कैदी के सेल में फिजियोथेरेपी सत्र की अनुमति नहीं है।

लेखक वरिष्ठ पत्रकार हैं और भारतीय प्रेस परिषद के पूर्व सदस्य रह चुके हैं

Share This Article
Leave a comment