मेरी छवि खराब कर रहे हैं तेजस्वी यादव : विजय कुमार सिन्हा

Desk Editor
Desk Editor 3 Min Read

पटना : विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता विजय कुमार सिन्हा ने  शराब के मामले में अपना नाम घसीटे जाने को लेकर डिप्टी तेजस्वी यादव पर पलटवार किया है। सिन्हा ने शनिवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि तेजस्वी शराब के मामले में मेरा नाम लेकर मेरी छवि खराब कर रहे हैं। तेजस्वी यादव जिस शख्स को मेरा रिश्तेदार बता रहे हैं, उससे मेरे परिवार का दूर-दूर तक कोई संबंध नहीं है। लेकिन सिर्फ सरकार की छवि साफ रहे, इसलिए मेरा नाम इस मामले में घसीटा गया है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि तेजस्वी यादव, भाई वीरेंद्र और शकील अहमद खान अगर इसके लिए माफी नहीं मांगते हैं तो उनके खिलाफ मानहानि का केस दर्ज कराएंगे। नेता प्रतिपक्ष ने बताया कि तेजस्वी ने हड़बड़ाहट में बयान देते हुए कहा कि हमारे संबंधी के यहां शराब पकड़ाया है। यह बयान तथ्यहीन, दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण है। बिना सत्य की जानकारी लिए बयान दिया है। विजय कुमार सिन्हा ने खुलासा किया कि पुलिस ने लखीसराय में शराब के मामले में जिस व्यक्ति को पकड़ा है, वह जदयू का कार्यकर्ता है। इस दौरान पकड़े गए युवक की तस्वीर भी उन्होंने मीडिया के साथ शेयर की है। उन्होंने बताया कि जिस मुनचुन कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, वह बाइक पर जदयू का झंडा लगाकर घूमता है। उन्होंने कहा कि वे पहले भी इस बात को कह चुके हैं कि सत्ता के संरक्षण में शराबबंदी को फेल किया जा रहा है। विजय सिन्हा ने कहा कि जदयू के लोग ही मुख्यमंत्री का मजाक उड़वा रहे हैं। पकडे गये युवक पर लखीसराय थाना में एक केस भी हुआ है। उन्होंने कहा है कि तेजस्वी यादव जनता के बीच उनकी छवि को धूमिल करने के लिए झूठा भ्रम फैला रहे हैं। इस दौरान उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष को लेकर कहा कि वह सदन के अध्यक्ष की जगह सत्ता पक्ष के प्रवक्ता के रूप में काम कर रहे हैं। इससे अध्यक्ष पद की गरिमा प्रभावित हो रही है। वह ऐसा न करें। दरअसल, शुक्रवार को उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया था कि जो नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा शराब की दुहाई दे रहे हैं, खुद उनके  संबंधी के घर शराब पकड़ाया है। इस दौरान राजद विधायक भाई वीरेंद्र और कांग्रेसा विधायक शकील अहमद खान ने भी तेजस्वी यादव के बयान का समर्थन करते हुए विजय सिन्हा पर आरोप लगाया था।

Share This Article
Leave a comment