व्यवस्था में खत्म हो चुकी है पारदर्शिता : आरसीपी सिंह

Desk Editor
Desk Editor 2 Min Read

पटना : पूर्व केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह ने बुधवार को एक बार फिर  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर जमकर निशाना साधा। इस बार उन्होंने बिहार कर्मचारी चयन आयोग परीक्षा और पेपर लीक मामले को लेकर हमला बोलते हुए कहा कि यह बिहार में बड़ी समस्या है। यहां परीक्षा में दूसरे लोग भी बैठ जा रहे हैं। सेंटर पर वो भी पकड़े जाते। व्यवस्था में एक पारदर्शिता होती है। वो पारदर्शिता खत्म हो चुकी है। आरसीपी सिंह ने कहा कि गलत काम करने वाला नालंदा, गोपालगंज, बांका या कहीं का भी हो। इस मामले में सभी जांच एजेंसियों को लगाकर पता करना चाहिए। इन दिनों जितने लोगों ने नौकरी पाई है, उन पर भी क्लोज वॉच होनी चाहिए। आजकल नीतीश कुमार की फोटो लगाकर पदाधिकारियों पर प्रभाव डालकर इस तरह के काम करते हैं। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार शराबबंदी पर बिफरते रहते हैं, लेकिन उनको बिहार में रोजगार का हाल नहीं दिख रहा है। बिहार के मुख्यमंत्री घोषणा करते हैं कि इतने लाख को रोजगार देंगे। लेकिन हकीकत में क्या हालात हैं, ये उनको नहीं दिख रहा क्या? ये पूरा का पूरा कमाई का धंधा बनता जा रहा है। इस तरह से रोजगार देंगे। इसके साथ ही उन्होंने कहा किे बिहार में खुलेआम कहा जाता कि इस पद के लिए इतना पैसा चल रहा है। इतने पैसे में ये पद मिल रहा है। ऐसे में क्या यह बात नीतीश कुमार को नहीं पता होगी। यदि सही में उनको नहीं पता है तो इसका मतलब स्पष्ट है कि उनकी पकड़ ढीली पड़ी है। पेपर लीक से जुड़ा कोई भी मामला आता है तो इसपर जितनी भी तरह की जांच एजेंसी है, उसे लगाकर इसके तह तक जाना चाहिए। अगर एक भी मामले को छोड़ेंगे तो वो सबके लिए काल साबित होगा।

Share This Article
Leave a comment