बिहार में बढ़ते अपहरण की घटनाओं पर विधान सभा में हंगामा

Desk Editor
Desk Editor 3 Min Read

पटना :  बिहार में बढ़ते अपहरण की घटनाओं को लेकर सोमवार को विधान सभा में भारी हंगामा हुआ। सदन की कार्यवाही शुरु ह़ोते ही नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा ने बिहटा के अपहृत छात्र तुषार की हत्या का मामला उठाया। उन्होंने कहा कि बिहार में फिर से अपहरण उद्योग शुरू हो गया है।एक बिल्डर से 2 करोड़ की रंगदारी की मांग की गई है। इस पर सरकार जवाब दे। नेता प्रतिपक्ष ने इसके साथ ही ओला वृष्टि से हुये फसल के नुकसान का भी मामला उठाया। इस पर विधानसभा अध्यक्ष अवध बिहारी चौधरी ने कहा कि आपने सदन को जानकारी दे दी। आप आसन पर बैठिए। लेकिन सरकार की तरफ से कोई जवाब नहीं मिलने पर भाजपा के विधायक वेल में पहुंच गए और जमकर हंगामा किया। भारी हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही चलती रही। नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा ने सदन को बताया कि बिहार में लगातार आपराधिक घटनाएं हो रही हैं। बिल्डर से दो करोड़ की रंगदारी मांगी गई है, जबकि पटना के बिहटा में तुषार की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई। उन्होंने कहा कि बिहार के विभिन्न जिलों से भी अपहरण के मामले सामने आ रहे हैं। नेता प्रतिपक्ष ने सरकार से जवाब मांगा कि बिहार में फिर से अपहरण और रंगदारी का उद्योग शुरू हो गया है। नेता प्रतिपक्ष के सवाल उठाने पर सरकार की तरफ से कोई जवाब नहीं दिया गया। विपक्ष के विधायक हंगामा करने लगे और वेल में आ गए। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि यह गंभीर मसला है। सरकार इस पर जवाब दे। विधानसभा अध्यक्ष ने हंगामे के बीच प्रश्ननकाल को शुरू कराया। थोड़ी देर के बाद भाजपा सदस्य शांत हुए और अपनी सीट पर लौट गए। गौरतलब है कि बिहटा के श्रीरामपुर स्कूल के प्राचार्य राजकिशोर पंडित के इकलौते बेटे 13 वर्षीय तुषार का अपहरण 16 मार्च को हुआ था। अपहरण के बाद चालीस लाख रुपये की फिरौती मांगी गई थी। तुषार के पिता के मोबाइल पर दो बार धमकीभरा वॉइस मैसेज आ चुका था। मैसेज भेजने वाले ने फिरौती की मांग करते हुए कहा कि 40 लाख रुपये का प्रबंध करों नहीं तो बेटे से हाथ धो दोगे।  फिरौती के पैसे नही मिलने पर अपहरणकर्ता ने तुषार की हत्या कर शव को जला दिया उसका अधजला शव पुलिस ने बरामद किया था।

Share This Article
Leave a comment